वाराणसी से नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनावी मैदान में उतरेंगे रिटायर्ड जस्टिस कर्णन

नई दिल्ली | लोकसभा चुनाव 2019 की लड़ाई दिलचस्प होती जा रही है. देश की सबसे VIP सीटों में शामिल वाराणसी पर हर किसी की नज़र है. यहां से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर मैदान में हैं. उन्हें हराने के लिए कई बड़ी हस्तियां यहां से मैदान में उतर रही हैं, इसमें अब रिटायर्ड जस्टिस सी. एस. कर्णन का नाम भी शामिल हो गया.

नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने का किया ऐलान

मद्रास और कलकत्ता उच्च न्यायालय के रिटायर्ड जस्टिस सी. एस. कर्णन ने वाराणसी लोकसभा क्षेत्र से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान किया है. 63 साल के रिटायर्ड जस्टिस सी. एस. कर्णन ने कहा कि अब मैं वाराणसी में अपना नामांकन दाखिल करने के लिए प्रारंभिक काम कर रहा हूं.
वह पहले ही मध्य चेन्नई लोकसभा सीट के लिए अपना नामांकन दाखिल कर चुके हैं और वाराणसी उनका दूसरा निर्वाचन क्षेत्र होगा. बता दें कि जस्टिस कर्णन ने 2018 में एंटी-करप्शन डाइनेमिक पार्टी (ACDP) का गठन किया था जिसके उम्मीदवार के रूप में उन्होंने अपना पर्चा दाखिल किया है. जस्टिस कर्णन अदालत की अवमानना के लिए दोषी पाए जाने वाले पहले सीटिंग न्यायाधीश थे. उन्हें जून 2017 में अपनी सेवानिवृत्ति के बाद छह महीने की जेल की सजा काटनी पड़ी थी.

कई दिग्गज हैं मैदान में

वाराणसी से इस बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आज़ाद ने भी चुनाव लड़ने का ऐलान किया है. पश्चिमी उत्तर प्रदेश में दलित नेता के तौर पर उभर रहे चंद्रशेखर ने हाल ही में वाराणसी में रोड शो भी किया था.
इसके अलावा तमिलनाडु के कई किसान एकजुट होकर प्रधानमंत्री के खिलाफ ताल ठोंक रहे हैं. ये किसान प्रधानमंत्री की नीतियों के खिलाफ हैं, वह दिल्ली में भी जंतर-मंतर पर कई दिनों तक सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर चुके हैं.

वाराणसी से चुनावी मैदान में उतर सकती हैं प्रियंका गांधी

इतना ही नहीं राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी वाराणसी से चुनावी मैदान में उतर सकती हैं. आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस महीने की 26 तारीख को नामांकन करेंगे.

Facebook Comments