लखनऊ में एक ही परिवार के पांच लोंगों की दर्दनाक मौत, जानें क्या थी वजह

उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ के इन्दिरानगर क्षेत्र में गैस चूल्हे के गोदाम में हुए भीषण अग्निकांड में एक दम्पति और बच्ची समेत परिवार के पांच सदस्यों की जलने से मौत हो गई। हादसा देर रात डेढ़ बजे का है। घटना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा दुःख व्यक्त करते हुये घटना की जांच कमिश्नर से कराए जाने का आदेश दिया है।

Also Read : मोदी के खिलाफ भरे गये 119 पर्चे, 89 हुए खारिज, अब ये 30 उम्मीदवार करेंगे मुकाबला, देखें सूची

इन्दिरानगर क्षेत्र में मायावती कॉलोनी के पास राम विहार फेज-2 में टीएन सिंह के घर में बनाए गए गैस चूल्हे के गोदाम में आग लग गई। हादसा शॉर्ट सर्किट होने से हुआ है। फायर ब्रिगेड को आग लगने की सूचना रात करीब पौने तीन बजे मिली। इसके बाद मौके पर राहत और बचाव कार्य शुरू किया गया। आग पर काबू करने के लिए घटनास्थल पर 12 फायर ब्रिगेड की गाड़ियां पहुंची। मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया है।

Also Read : जया बच्चन ने पीएम मोदी पर लगाए गंभीर आरोप, जानें पूरा मामला

प्रतापगढ़ का रहने वाला है परिवार

मरने वालों में दंपती शामिल हादसे के वक्त मकान मालिक टीएन सिंह बाहर गए थे। यह परिवार मूलत: प्रतापगढ़ के पट्टी का रहने वाला है। यहां पूरे मकान को गोदाम बनाकर रखा था। सिंह पूरे उत्तरप्रदेश में गैस चूल्हा की आपूर्ति का काम करते हैं। मृतकों की पहचान सुमित सिंह (31) , उनकी पत्नी वंदना सिंह, छह माह बच्ची बेबी, जूली सिंह (48) और डब्लू सिंह (50) के रूप में हुई है।

दम घुटने से मौत होना सामने आया घटना के बाद स्थानीय लोगों ने हंगामा करना शुरू कर दिया है। मौके पर भीड़ जुटती देख पुलिस ने खदेड़ कर भगाया। फायर ब्रिगेड टीम ने जेसीबी की मदद से कई जगह से घर तोड़ कर राहत कार्य शुरू किया है। बताया जा रहा है कि सभी की मौत दम घुटने से हुई है।

वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के इंदिरानगर क्षेत्र में आग लगने की घटना में एक परिवार के सदस्यों की मृत्यु पर अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने आदेश दिया है कि लखनऊ के कमिश्नर इस घटना की छानबीन कर 7 दिनों के भीतर पूरी रिपोर्ट देंगे।

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

Facebook Comments