Ghaziabad Lok Sabha Election Result 2019: ग़ाज़ियाबाद से जनरल वी के सिंह ने हासिल की विजय

Ghaziabad Lok Sabha Election Result 2019: भारतीय  जनता  पार्टी  के वीके सिंह चुनाव  लड़ रहे  हैं, जिनका मुख्य  मुकाबला सपा के सुरेंद्र गोयल से है. इस सीट पर कांग्रेस से डॉली शर्मा चुनाव लड़ रहे है. इस सीट पर कुल 12 प्रत्याशी मैदान में है.


Ghaziabad Election Result 2019: 17वीं लोकसभा चुनाव के तहत उत्तर प्रदेश की गाजियाबाद सीट पर सभी की निगाहें है. गाजियाबाद संसदीय सीट पर मतगणना की प्रकिया चल रही है. इस सीट पर बीजेपी, सपा और कांग्रेस के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है. इस सीट  पर  मतगणना  के  दौरान  मिलने  वाले  रुझान  और अंतिम  परिणाम  जानने  के  लिए  इस  पेज  पर  बने  रहें  और  इसे  रिफ्रेश  करते  रहें.


शाम पांच बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक वीके सिंह 913275 मतों के साथ आगे चल रहे हैं वहीं सपा के सुरेश बंसल 434593 मतों के साथ दूसरे स्थान पर हैं.

दोपहर 12.30 बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक वीके सिंह 312047 वोटों के साथ आगे चल रहे हैं जबकि सपा के सुरेश बंसल 154791 मतों के साथ दूसरे स्थान पर चल रहे हैं.


कब और कितने डले वोट

गाजियाबाद सीट  पर  वोटिंग  पहले चरण  में  11 अप्रैल  को  हुई  थी,  इस सीट पर 55.78 फीसदी लोगों ने अपने मताधिकार  का  इस्तेमाल  किया  था. इस सीट पर कुल 2726132 मतदाता हैं, जिसमें से 1520658 वोटर्स ने अपने वोट डाले हैं.

कौन-कौन  हैं  प्रमुख  उम्मीदवार

सामान्य  वर्ग  वाली  इस  सीट  पर  यूं  तो  सत्तारूढ़  भारतीय  जनता  पार्टी  के वीके सिंह चुनाव  लड़ रहे  हैं, जिनका मुख्य  मुकाबला सपा के सुरेंद्र गोयल से है. इस सीट पर कांग्रेस से डॉली शर्मा चुनाव लड़ रहे है. इस सीट पर कुल 12 प्रत्याशी मैदान में है.


2014 का चुनाव

2014 के लोकसभा चुनाव में गाजियाबाद सीट पर 56.94 फीसदी वोटिंग हुई थी, जिसमें बीजेपी के प्रत्याशी वीके सिंह को 56.50 फीसदी (7,58,482 ) वोट मिले थे और और उनके  निकटतम कांग्रेस के प्रत्याशी राज बब्बर को 14.24  फीसदी (1,91,222)  मिले थे. इसके अलावा बसपा के मुकुल शर्मा को 12.89 फीसदी (1,73,085) वोट मिले थे. इस सीट पर बीजेपी के वीके सिंह ने 5,67,260 मतों से जीत दर्ज की थी.

गाजियाबाद सीट का इतिहास

गाजियाबाद लोकसभा सीट पर पहली बार 2009 में जब चुनाव हुए तो बीजेपी के दिग्गज नेता राजनाथ सिंह बड़े अंतर से जीते थे. लेकिन 2014 में राजनाथ सिंह लखनऊ चले गए और यह सीट वीके सिंह को मिली. अब एक बार फिर 2019 में पार्टी ने वीके सिंह पर दांव लगाया है. वोटरों की संख्या के हिसाब से देखें तो गाजियाबाद प्रदेश की बड़ी लोकसभा सीटों में से गिनी जाती है. 2014 में यहां करीब 23 लाख से अधिक वोटर थे, इनमें 13 लाख पुरुष और 10 लाख महिला वोटर रहीं.

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

Facebook Comments