यूपी ग्राम पंचायत चुनाव 2020 से पहले ग्राम प्रधानों की संपत्तियों की जांच करेगी योगी सरकार

  • पंचायत चुनावों को लेकर सरकारी मशीनरी में हलचल होने के बाद अब ग्रामीण क्षेत्रों में स्थानीय नेताओं की भी सक्रियता और बढ़ने वाली है

लखनऊः उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से बड़ी खबर सामने आ रही है। दरअसल, 2020 के पंचायत चुनाव से पहले ग्राम प्रधानों की संपत्तियों की जांच शुरू होने जा रही है। केंद्र सरकार से एडवाइजरी जारी होते ही योगी सरकार जांच शुरु करेगी।


जानकारी के मुताबिक, केंद्र और राज्य सरकारों की विभिन्न योजनाओं में पंचायतों को मिली धनराशि की जांच भी इस दायरे में शामिल है। विकास कार्य कितना हुआ, गुणवत्ता है कि नहीं और पंचायतों के खातों से हुए लेनदेन का ब्यौरा भी जुटाया जाएगा।

Also Read : यूपी पंचायत चुनाव में इस बार होने जा रहा है यह बड़ा बदलाव, राज्य निर्वाचन आयोग ने यूपी सरकार को भेजा प्रस्ताव

कयास लगाए जा रहे हैं कि आय से अधिक और बेनामी संपत्ति वाले प्रधानों को आगामी पंचायत चुनाव लड़ने से वंचित भी किया जा सकता है। वहीं इस प्रकिया के लिए जिला प्रशासन पूरी तरह से सजग और तैयार है।

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

Facebook Comments