राम मंदिर ट्रस्ट को लगा इतने लाख रुपये का चूना, महासचिव ने पुलिस में FIR लिखाई

अयोध्या: एक हैरान करने वाली घटना में राम मंदिर के निर्माण (Ram Mandir Construction) की पूरी जिम्मेदारी देख रहे रामजन्मभूमि ट्रस्ट के एक बैंक अकाउंट से किसी ने छह लाख की रकम निकाल ली है. ट्रस्ट इस फंड से राम मंदिर का निर्माण करा रहा है. मंदिर की जिम्मेदारी देख रहे रामजन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने अयोध्या पुलिस (Ayodhya Police) में एफआईआर लिखाई है. उनका आरोप है कि ट्रस्ट के एक बैंक अकाउंट से फर्जी चेक का इस्तेमाल करते हुए छह लाख रुपए की रकम निकाल ली गई है.


चंपत राय ने अपने एफआईआर में बताया है कि उन्हें फ्रॉड का तब पता चला जब बैंक से उन्हें कॉल आई. उन्होंने कहा कि ऐसा लग रहा है कि चेक पर ट्रस्टी के दस्तखत भी फर्जी थे. अयोध्या पुलिस ने मामले में केस दर्ज कर लिया है और कहा है कि फिलहाल जांच चल रही है.

बता दें कि पिछले साल सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर के निर्माण के पक्ष में फैसला देते हुए रामजन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट को इसकी जिम्मेदारी सौंपी थी. इस साल पांच अगस्त को जन्मस्थली पर भूमिपूजन कराया गया है, जिसके बाद से राम मंदिर निर्माण का काम शुरू हो गया है. 

मंदिर के शिलान्यास के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित कई बड़े नेता और धार्मिक पंथ और संप्रदायों के लोग पहुंचे थे. हालांकि, कोरोनावायरस के चलते लॉकडाउन में हुए इस कार्यक्रम में आम जनता के हिस्सा लेने पर रोक लगा दी गई थी.


भूमि पूजन के कुछ दिनों बाद ट्रस्ट की ओर से बताया गया था कि राम जन्म भूमि मन्दिर के निर्माण के लिए काम शुरू हो गया है. मन्दिर निर्माण के कार्य में लगभग 36-40 महीने का समय लगने का अनुमान है. कहा गया है कि मंदिर का निर्माण भारत की प्राचीन निर्माण पद्धति से किया जा रहा है ताकि वह आने वाले कई सालों तक भूकंप और आपदाओं को झेल सके.

The Ace EXPRESS से जुड़ने और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

दि ऐस एक्सप्रेस Telegram पर भी उपलब्ध है। जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें@TheAceExpress

Facebook Comments