सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने बेरहमी से गला रेतकर की बीवी और तीन बच्चों की हत्या

गाजियाबाद। गाजियाबाद के इंदिरापुरम थाना क्षेत्र के ज्ञानखंड-चार में रहने वाले एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने शनिवार की रात अपनी बीवी और अपने तीन मासूम बच्चों की गला रेतकर उन्हें मौत के घाट उतार दिया। कत्ल करने के बाद इंजीनियर सुमित शवों को फ्लैट में बंद कर फरार हो गया। फरार होने से पहले परिवार के ह्वाट्सएप ग्रुप पर भेजे वीडियो से लोगों को घटना की जानकारी हुई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर आरोपी इंजीनियर की तलाश शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक टाटा नगर जमशेदपुर के रहने वाले सुमित बंगलुरु स्थित एक लैपटॉप कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर था। वह पत्नी अंशुबाला (30), बेटे प्रथमेश (7), आरव (4) व बेटी आकृति (4) के साथ बीते दो वर्ष से ज्ञानखंड-चार स्थित एक फ्लैट में किराये पर रह रहा था। बताया जाता है कि गंभीर बीमारी से पीड़ित होने के कारण सुमित ने जनवरी में नौकरी छोड़ दी थी। उसके बाद उसके सामने परिवार का खर्च उठाने में दिक्कतें आने लगी। 

व्हाट्सएप पर शेयर की थी वीडियो

पुलिस के अनुसार रविवार की शाम करीब छह बजे सुमित ने व्हाट्सएप ग्रुप पर वीडियो शेयर कर अपने परिजनों को बताया कि उसने अपनी बीवी और तीन बच्चों का कत्ल कर दिया है, और खुद आत्महत्या करने जा रहा है। परिजनों की सूचना पर पुलिस सुमित के फ्लैट पर पहुंची। वहां पहुंचने पर पुलिस ने देखा की चारों लोगों की खून से सना शव पड़ा हुआ है। उनकी हत्या किसी धारदार हथियार गला रेतकर की गई थी। पुलिस व फॉरेंसिक टीम मामले की जांच में जुटी है।

सोसाइटी के वॉचमैन ने बताया कि शनिवार की रात तकरीबन 3 बजे सुमित बैग लेकर घर से बाहर निकला था। इससे पुलिस अनुमान लगा रही है कि सुमित ने शनिवार रात ही अपनी पत्नी, पांच साल के बेटे और दो जुड़वां बच्चों की हत्या कर दी थी और फ्लैट में ताला लगाकर फरार हो गया। पुलिस सुमित की तलाश कर रही है, लेकिन अभी उसे कामयाबी नहीं मिली है।

Source: DainikHint

Facebook Comments