Imran Khan पर बरसीं पूर्व पत्नी Reham Khan, Modi को खुश करने के लिए किया कश्मीर का सौदा

Reham Khan: जम्मू-कश्मीर के मसले पर हायतौबा कर रहा पाकिस्तान खुद ही अपने घेरे में घिरता जा रहा है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को दुनिया के कई देशों से निराशा हाथ लगी है और अब तो वह घर में ही घेरे जाने लगे हैं. इमरान खान की पूर्व पत्नी और ब्रिटिश-पाकिस्तानी पत्रकार Reham Khan ने भी अब जम्मू-कश्मीर के मसले पर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री पर निशाना साधा है. Reham Khan ने इमरान पर कश्मीर का सौदा करने का आरोप लगाया है.

Also Read: पाबंदी के बावजूद भी गिलानी को मिल रही थी इंटरनेट सुविधा, BSNL के 2 कर्मचारी हुए सस्पेंड

इमरान खान में निर्णय लेने की क्षमता का अभाव

एक इंटरव्यू में Reham Khan ने कहा कि कश्मीर में हालिया घटनाक्रम का कारण इमरान खान में निर्णय लेने की क्षमता का अभाव और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुश करने की कोशिश है. मिडिया के मुताबिक, रेहम खान ने कहा कि हमें शुरू से सिखाया गया कि कश्मीर बनेगा पाकिस्तान, लेकिन इमरान खान ने इसका सौदा कर दिया. रेहम खान ने इमरान खान को घेरा तो उनका ये इंटरव्यू सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.

रेहम खान ने कहा कि मोदी ने वही किया जो उन्हें करना था, यही करने के लिए उनको जनादेश मिला था, अनुच्छेद 370 को हटाने के लिए. लेकिन इमरान खान कुछ ना कर सके. रेहम बोलीं कि इमरान बार-बार कहते रहे कि वह कश्मीर पर मोदी के प्लान को जानते थे, अगर वह सचमुच जानते तो कुछ किया क्यों नहीं. या फिर आप लगातार उन्हें फोन कर उनसे बात करने की कोशिश क्यों कर रहे थे.

ट्विटर के जरिए इमरान पर निशाना साधती रही

आपको बता दें कि इमरान खान और रेहम खान की शादी सिर्फ एक ही साल चल पाई थी (2014-2015). रेहम खान उसके बाद से ही लगातार ट्विटर के जरिए इमरान पर निशाना साधती रही हैं, जब से इमरान प्रधानमंत्री बने हैं तब से ये और भी तेज हुआ है. अपने इस इंटरव्यू से पहले भी उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए वह इमरान खान को घेरती रही हैं.

Also Read: संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद में चीन ने उठाया कश्मीर का मुद्दा, देखिए अमेरिका,रूस ने क्या कहा ?

गौरतलब है कि इमरान खान जम्मू-कश्मीर के मसले पर कई देशों से दखल देने की गुहार लगा चुके हैं. वह कई बार अपने भाषणों के दौरान भड़काऊ बयान भी दे चुके हैं लेकिन हर दफा उन्हें निराशा ही हाथ लगी है और भारत अपने फैसले पर अडिग है.

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

Facebook Comments