राहुल गाँधी ने खोला राज़ ? कांग्रेस की क्या है यूपी में रणनीति ?

राहुल गांधी ने कहा है कांग्रेस और गठबंधन मिलकर यूपी से बीजेपी का सफाया करेंगे, यूपी में कांग्रेस जहाँ कमजोर हैं वहां गठबंधन (सपा-बसपा-आरएलडी) की मदद कर रही है।

Lok Sabha Elections 2019 : लोकसभा चुनाव के लिए चार चरणों का मतदान किया जा चुका है इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस चुनाव में कांग्रेस की रणनीति की जानकारी दी है। एक टीवी चैनल से बातचीत में कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि उत्तर प्रदेश में जहां हमारा प्रत्याशी है, वहां हम मजबूती से लड़ रहे हैं। जहां मजबूत प्रत्याशी नहीं है वहां सपा-बसपा के गठबंधन को मदद कर रहे हैं।


Also read : यूपी में बीजेपी का सफाया, सपा और बसपा खुश, इंडिया टुडे ने किया सर्वे

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा है कि इसके लिए मैंने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया को निर्देश भी दिए हैं कि बीजेपी को हराना ही हमारा मकसद है। इसलिए ऐसी सीटें जहां हम कमजोर हैं वहां गठबंधन (सपा-बसपा-आरएलडी) की मदद करेंगे। मुझे पूरा विश्वास है कि कांग्रेस और गठबंधन मिलकर यूपी से बीजेपी का सफाया कर देगा। बीजेपी को हराना ही हमारा मकसद है, नरेंद्र मोदी दोबारा प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे।


Also read : प्रियंका गाँधी ने की मोदी की तुलना अहंकारी कछुए से, जानें और क्या कहा ?

यह पूछे जाने पर कि बसपा सुप्रीमो मायावती अपनी रैलियों में लगातार कांग्रेस पर हमला बोल रही हैं तो राहुल ने कहा ‘जहां तक उत्तर प्रदेश की बात है, कांग्रेस मायावती और मुलायम सिंह यादव के लिए एक खतरा है। पर मैं मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की बहुत इज्‍जत करता हूं। बीजेपी को हराना ही हमारा मकसद है।

पत्रकार ने जब उनसे पूछा कि सपा-बसपा के साथ आपका गठबंधन क्यों नहीं हुआ तो राहुल ने जवाब दिया कि यह उनकी रणनीति का हिस्सा है। वह दोनों साथ मिलकर लड़ना चाहते थे और कांग्रेस को इसमें शामिल नहीं करना चाहते थे। लेकिन मैं साफ कर देना चाहता हूं कि जहां भी सपा-बसपा की सीधी लड़ाई बीजेपी से हैं हम वहां वोट काटकर गठबंधन की मदद करेंगे।


वहीं दिल्ली में आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन न होने पर उन्होंने कहा ‘हम दिल्ली में 4-3 के फॉर्मूले पर सीटों का बंटवारा करना चाह रहे थे। अरविंद केजरीवाल की भी इस पर सहमति थी, पर अचानक ही उन्होंने हरियाणा और पंजाब के लिए भी गठबंधन की मांग की जिसके लिए हम तैयार नहीं थे।

वहीं कांग्रेस के घोषणापत्र को लेकर उन्होंने कहा हमने लाखों लोगों को सुनकर घोषणापत्र को तैयार किया है। कांग्रेस पार्टी लोगों को सुनती है और सभी के विचारों का सम्मान करती है। बता दें कि लोकसभा चुनाव के लिए पांचवें चरण का मतदान 6 मई को होगा। और चुनाव के परिणाम 23 मई को घोषित किए जाएंगे।


Facebook Comments