बिहार में विपक्ष पर गरजे PM मोदी: पाकिस्‍तान की भाषा बोल रहे महामिलावटी नेता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के गया व जमुई में हुई जनसभाओं में विरोधियों पर जमकर निशाना साधा। खासकर उन्‍होंने जम्‍मू-कश्‍मीर के पूर्व सीएम उमर अब्‍दुल्‍ला के उस बयान को आड़े हाथों लिया, जिसमें उन्‍होंने कहा था कि जम्मू-कश्मीर के लिए अलग प्रधानमंत्री चाहिए। विपक्ष पर हमलावर प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि महामिलावटी नेताओं को यह बताना चाहिए कि उन्हें सेना के सपूतों पर भरोसा है या पाकिस्तान के कपूतों पर। ये महामिलावटी नेता आज चौकीदार से परेशान हैं और गाली दे रहे हैं। वे पाकिस्‍तान की भाषा बोल रहे हैं।
बिहार के गया में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश में कुछ मिलावटी नेता पाकिस्तान की भाषा बोलते हैं। उन्‍होंने समझौता ब्लास्ट जैसी आतंकवादी घटना में पाकिस्तान की भूमिका को खत्म कर ‘हिन्दू आतंकवाद’ का शब्द गढ़ा। ऐसे लोग नक्सलियों को भी समर्थन देते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में पहले आए दिन बम धमाके होते रहते थे। कभी अहमदाबाद में, तो कभी हैदराबाद में। कभी दिल्‍ली में, तो कभी अयोध्‍या में बम धमाकों से लोग मारे जाते थे। लोग सहमे रहते थे कि कब बम ब्‍लास्‍ट हो जाए पता नहीं। लेकिन मई 2014 में मोदी के आते ही ऐसी विध्‍वंसक ताकतों का पलायन हो गया।
मोदी ने कहा कि पहले कुर्सी तंत्र के लिए मिलावटी लोग ऐसे आतंकवादियों को छोड़ देते थे, जब कड़ाई हुई तो वही लोग अब हिंदू आतंकवाद का आरोप लगा रहे हैं। विरोधियों को हमारी चौकीदारी से दिक्‍कत हुई तो महामिलावटी लोग चौकीदार को तरह-तरह की गालियां दे रहे हैं। लेकिन पूरी दुनिया चौकीदार के काम को सराह रही है।  पीएम मोदी ने कहा क‍ि कांग्रेस से सावधान रहने की जरूरत है। ये लोग देश में आतंकियों काे बढ़ावा देते हैं। यही महामिलावटी लोग नक्‍सलियों को भी बढ़ावा देते हैं। जब ऐसे महामिलावटी लोगों की साजिशों पर हमने चौकीदारी की तो इन्‍हें दिक्‍कत होने लगी। चौकीदार अच्‍छे नहीं लगने लगे। काम करनेवालों से महामिलावट वाले लोग नफरत करते हैं। ऐसे लोगों से आप लाेगों को सतर्क रहने की जरूरत है।
प्रधानमंत्री ने नीतीश कुमार की सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि बिहार में हर घर में बिजली पहुंचायी जा रही है। उन्होंने गया की जनसभा में गया और औरंगाबाद के प्रत्याशियों के लिए जीत का आशीर्वाद मांगा। कहा कि राजग सबका साथ सबका विकास को आगे बढ़ा रहा है।
इसके पहले प्रधानमंत्री की सभा को लेकर गया में भीड़ अनियंत्रित हो गई। सभा स्‍थल पर डी एरिया में मोदी-मोदी के नारे लगाते लोग अव्‍यवस्‍था से आक्रोशित हो गए। वे एक-दूसरे पर कुर्सियां फेंकने लगे। जूते-चप्‍पल भी चले।  भीड़ काे नियंत्रित करने में भाजपा समर्थक जुट रहे। बाद में प्रशासन की सख्‍ती के बाद मामला शांत हुआ।
उधर बिहार के जमुई में प्रधानमंत्री ने ‘गिद्धौर की दुर्गा माई की जय’ के साथ अंगिका भाषा में अपना भाषण शुरू किया। वहां उन्‍होंने विरोधियों पर जमकर निशाना साधा। जमुई के बल्लोपुर के मैदान में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा बाबा अंबेडकर का अपमान किया है। राजग की सरकार बाबा साहब का सम्‍मान कर रही है। जो भी बाबा साहब को पूज्‍य मानते हैं, वे कांग्रेस का कभी साथ नहीं देंगे। आरक्षण को लेकर कहा कि कांग्रेस भ्रम की राजनीति कर रही है। उन्‍होंने कहा कि विपक्ष के नेता झूठ पर झूठ बोलते जा रहे हैं। सामान्य श्रेणी के लिए 10 फीसद आरक्षण दिया है अौर आरक्षण को कोई खत्‍म नहीं कर सकता है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हुए कहा कि भारत को आंख दिखाने वालों से नरमी से पेश नहीं आया जाएगा। चाहे वे नक्सली हों या आतंकबादी। कांग्रेस के पूरे शासन काल से ज्यादा हमारे पांच वर्षों के शासन काल में नक्सली आत्मसमर्पण कर राष्ट्र की मुख्य धारा में शामिल हुए हैं।  
उन्होंने कहा कि पुलवामा हमले के बाद देश ने शौर्य का प्रदर्शन किया। भारत ने पहली बार आतंकियों के घर में घुस कर प्रहार किया, जिसकी आज पूरी दुनिया में चर्चा हो रही है। परंतु महमिलावटी लोग सबूत मांग रहे हैं। पूरे देश को सेना पर भरोसा है, पर ये लोग सेना को परेशान कर रहे हैं। उमर अबुल्ला को तो जम्मू कश्मीर के लिए अलग प्रधानमंत्री चाहिए।
प्रधानमंत्री ने जमुई में लाेजपा प्रत्‍याशी चिराग पासवान के लिए वोट मांगा। उन्‍होंने सभा में आए लोगों से चौकीदार को लेकर नारे भी लगवाए। इसके पहले जमुई में प्रधानमंत्री मोदी का बिहार के मंत्री नंदकिशोर यादव व मंत्री मंगल पांडेय समेत लोजपा प्रत्‍याशी चिराग पासवान ने स्‍वागत किया।

बता दें कि बिहार में पहले चरण के लोकसभा चुनाव का प्रचार चरम पर है। पहले चरण में जमुई व गया के अलावा नवादा व औरंगाबाद लोकसभा क्षेत्रों में 11 अप्रैल को वोटिंग होगी। जमुई से चिराग पासवान, नवादा से चंदन कुमार, औरंगाबाद से सुशील कुमार सिंह व गया से विजय मांझी एनडीए प्रत्‍याशी अपनी किस्‍मत आजमा रहे हैं। इसी क्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जमुई और गया में जनसभाओं को संबोधित किया। खास बात कि लोकसभा चुनाव की घोषणा के बाद बिहार में प्रधानमंत्री का यह पहला दौरा है। गया की सभा में बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार भी मंच पर पीएम के साथ मौजूद रहे।  

जमुई व गया में समर्थक तरह-तरह की वेशभूषा में प्रधानमंत्री को सुनने पहुंचे। कोई हनुमान बना था, तो कोई राम। अनेक समर्थक पीएम मोदी के मास्‍क को पहने नजर आ रहे थे।

SOURCE : JAGRAN

Facebook Comments