बीजेपी सांसद उदितराज कांग्रेस में शामिल, भाजपा को बताया दलित विरोधी पार्टी

भारतीय जनता पार्टी से टिकिट न मिलने से नाराज दिल्ली वेस्ट दिल्ली सुरक्षित लोकसभा क्षेत्र के सांसद उदित राज ने आज कांग्रेस शामिल हो गए है. बीजेपी ने उनकी टिकिट काट दिया था.

दिल्ली की नॉर्थ वेस्ट सीट सुरक्षित अर्थात आरक्षित सीट है. इस सीट से अभी बीजेपी के सासंद दलित नेता उदित राज थे. पार्टी में उन्होंने अपनी पार्टी का 2014 में विलय भी कर दिया था और बीजेपी ने उन्हें दिल्ली की इस सीट से चुनाव लड़ाया जहाँ उन्होंने आम आदमी पार्टी की उम्मीदवार राखी बिडलान को लगभग एक लाख से ज्यादा मतों से हराया. इसके बाद अब पार्टी ने उन्हें टिकिट नहीं दिया है चूँकि उदित राज ने दलितों के संघर्ष के लिए एक राजनैतिक संघठन खड़ा किया था जिसका विलय भी वो बीजेपी में कर चुकें है

उन्होंने कहा भी कि पार्टी क्यों नहीं टिकट दे रही. जबकि मैंने इतना अच्छा काम किया है. पार्टी क्या दलित विरोधी है? पूरे देश में मुझसे बड़ा दलित नेता कौन है. जितने इनके कैंडिडेट लड़ रहे हैं, उनके जितनी मेरे अकेले की ताकत है. फिर पार्टी मेरे साथ यह व्यवहार क्यों कर रही है. हालांकि उन्हें टिकिट कटने का अंदाज भी था लेकिन उन्होंने पार्टी के निर्णय से पहले ही अपने नाराजगी और धमकी की बात शुरू की थी. शायद अब बीजेपी पुरानी बीजेपी नहीं है जो पार्टी के विरुद्ध बात करने वलों को नजरअंदाज करें.

अब उदित राज ने कहा है कि बीजेपी की असलियत कुछ और है जबकि दिखती कुछ और है. पार्टी अंदर से दलित विरोधी मानसिकता से लबरेज है. उहोने टिकिट कटते ही अपने नाम के आगे से चौकीदार शब्द भी हटा दिया है जबकि कहा है, मेरे टिकट का नाम में देरी होने पर पूरे देश में मेरे दलित समर्थकों में रोष है और जब मेरी बात पार्टी नहीं सुन रही तो आम दलित कैसे इंसाफ पायेगा.

Facebook Comments