जानें- विराट कोहली किस वजह से खेलना चाहते थे वनडे T-20

मुंबई : वेस्टइंडीज दौरे के लिए रवाना होने से पहले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली से प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह सवाल पूछा गया कि उन्हें वनडे और T-20 सीरीज के लिए आराम दिया गया था, तो वह अचानक इसके लिए कैसे तैयार हो गए. बता दें कि बीच वर्ल्ड कप अचानक 23 जून को खबर आई थी कि इंडीज दौरे की T-20 और वनडे सीरीज में विराट कोहली ने BCCI से आराम मांग लिया है. लेकिन सेमीफाइनल में हार से वर्ल्ड कप सफर खत्म होने के बाद वह इंडीज दौरे के लिए तैयार हो गए.

Also Read : OPPO ने छोड़ दी टीम इंडिया की स्पॉन्सरशिप, जानिए क्यों ?


यह खबरें भी आई थी कि विराट कोहली यदि वेस्टइंडीज दौरे में टी-20 और वनडे टीम से नहीं जुड़ते, तो कप्तान के रूप में एक बार फिर रोहित शर्मा को मौका मिल सकता था. रोहित को विराट की गैरमौजूदगी में जब भी कमान मिली, उन्होंने टीम इंडिया की बेहतर कप्तानी की. साथ ही BCCI के सूत्रों से यह खबर भी मिली थी कि बोर्ड लिमिटेड ओवरों की क्रिकेट में एक अलग कप्तान बनाने पर विचार कर रहा है. माना जा रहा था कि शायद इस बात ने विराट को पूरे दौरे पर खेलने के लिए मजबूर कर दिया.

जसप्रीत बुमराह और कोहली को दिया जाएगा आराम

लेकिन सोमवार को मुंबई में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने साफ किया कि टीम के पूर्व फिजियो या ट्रेनर में से किसी ने उनसे नहीं कहा कि वेस्टइंडीज दौरे पर उन्हें आराम के लिए लिमिटेड ओवरों की क्रिकेट नहीं खेलनी चाहिए. ऐसी खबरें थी कि जसप्रीत बुमराह और कोहली को आराम दिया जाएगा, लेकिन कोहली ने कहा कि किसी ने उनसे नहीं कहा कि उनका कार्यभार निर्धारित सीमा से अधिक है.


कोहली ने कहा, ‘हमारा आराम के समय का पूरा रिकॉर्ड रहता है. बोर्ड को दिए गए ईमेल पर सब रहता है. मुझे नहीं पता कि क्या रिपोर्ट बनाई गई है. जब तक फिजियो या ट्रेनर मुझसे नहीं कहते, मुझे नहीं पता. मुझे नहीं पता कि चयनकर्ताओं को क्या ईमेल भेजा गया, क्योंकि मुझसे आराम के लिए नहीं कहा गया.’

कप्तानी के लिए तैयार खड़े थे रोहित शर्मा

विराट कोहली यदि वेस्टइंडीज दौरे में T-20 और वनडे टीम से नहीं जुड़ते, तो कप्तान के रूप में एक बार फिर रोहित शर्मा को मौका मिलता. वर्ल्ड कप में हार के बाद यह मांग भी उठने लगी थी कि रोहित शर्मा को वनडे और T-20 का कप्तान बना दिया जाए. उल्लेखनीय है कि रोहित को विराट की गैरमौजूदगी में जब भी कमान मिली, उन्होंने टीम इंडिया को चैम्पियन बनवाया. ऐसे में विराट कोहली ने अपनी कप्तानी को ब्रेक देना उचित नहीं समझा और दौरे के लिए तैयार हो गए.

Also Read : इस केस की वजह से अमेरिका ने रोका मोहम्मद शमी का वीजा, BCCI ने दिया दखल, देखिये


जब-जब मौका मिला- रोहित ने कर दिखाया

पिछले साल सितंबर में विराट कोहली ने यूएई में खेले गए एशिया कप टूर्नामेंट में आराम ले लिया था. जिसके बाद रोहित शर्मा की कप्तानी में भारत ने यह टूर्नामेंट जीता. इससे पहले मार्च 2018 में श्रीलंका में खेली गई ट्राई T-20 सीरीज में भी विराट आराम पर चले गए थे. रोहित ने इस टूर्नामेंट (निदहास ट्रॉफी) को भी जीतकर अपनी कप्तानी का लोहा मनवाया था. बतौर कप्तान रोहित ने अब तक 10 में से 8 वनडे जीते हैं, जबकि T-20 इंटरनेशनल में 15 में से 12 मुकाबलों में उन्हें जीत मिली है. मजे की बात है कि T-20 इंटरनेशनल में विराट कोहली ने भी 12 मैच जिताए हैं, लेकिन 22 मैच खेलकर.

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

Facebook Comments