डोपिंग रोधी नियम के उल्लंघन में फंसे पृथ्वी शॉ, BCCI ने 8 महीने के लिए किया निलंबित

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट टीम के बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) को BCCI ने निलंबित (suspend) कर दिया है. BCCI ने डोपिंग रोधी नियम के उल्लंघन के चलते उन्हें निलंबित किया है. पृथ्वी शॉ को 8 महीने के लिए निलंबित किया है, जो कि 15 नवंबर तक जारी रहेगा.

Also Read : इस केस की वजह से अमेरिका ने रोका मोहम्मद शमी का वीजा, BCCI ने दिया दखल, देखिये


पृथ्वी शॉ के अलावा दो और क्रिकेटरों को डोपिंग रोधी नियम के उल्लंघन के कारण बैन किया गया है. राजस्थान के क्रिकेटर दिव्य गजराज को 6 महीने के लिए बैन किया गया है. दिव्य गजराज राजस्थान अंडर-19 क्रिकेट टीम से खेल चुके हैं. वहीं विदर्भ के भी एक खिलाड़ी को बैन किया गया है. विदर्भ के अक्षय दुलारवर को भी 6 महीने के लिए बैन किया गया है |

डोपिंग के नियमों के उल्लंघन के कारण पृथ्वी शॉ निलंबित

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने मंगलवार को एक बयान जारी कर इस बात की जानकारी दी. शॉ को प्रतिबंधित पदार्थ के सेवन के कारण डोपिंग का दोषी माना गया है. यह पदार्थ आमतौर पर खांसी की दवाई में पाया जाता है. BCCI ने बयान में कहा कि मुंबई क्रिकेट संघ से पंजीकृत पृथ्वी शॉ को डोपिंग के नियमों के उल्लंघन के कारण निलंबित कर दिया गया है. शॉ ने प्रतिबंधित पदार्थ का सेवन किया था, जो आमतौर पर खांसी की दवाई में पाया जाता है” |


शॉ ने 22 फरवरी, 2019 को सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के दौरान अपना सैम्पल दिया था, जिसमें प्रतिबंधित पदार्थ के अंश पाए गए थे. 16 जुलाई, 2019 को शॉ को BCCI के डोपिंग रोधी नियमों (ADRV) के उल्लंघन का दोषी पाते हुए निलंबित किया गया. शॉ ने अपने ऊपर लगे आरोपों को माना, लेकिन कहा कि उन्होंने अनजाने में इस पदार्थ का सेवन किया. BCCI ने शॉ द्वारा दिए गए तर्क को कबूल किया है और उन्हें 15 नवंबर तक के लिए निलंबित किया गया है |

Also Read : पाकिस्तानी क्रिकेटर हसन अली की दुल्हन बनेगी मेवात की शामिया,जानिए कहाँ होगी शादी ?

शॉ के नाम एक शतक और एक अर्धशतक दर्ज

शॉ ने आखिरी इंटरनेशनल टेस्ट मैच वेस्ट इंडीज के खिलाफ हैदराबाद में खेला था. उन्होंने अब तक भारत के लिए दो टेस्ट खेले हैं. उनके नाम एक शतक और एक अर्धशतक दर्ज है. उन्होंने 2 टेस्ट में 118.50 की औसत से 237 रन बनाए हैं|

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

Facebook Comments