असम में फाइनल लिस्ट जारी होने के बाद मनोज तिवारी ने की मांग, कहा – दिल्ली में भी लागू हो NRC, देखिये

Manoj Tiwari demanded NRC in Delhi: भाजपा दिल्ली के प्रमुख मनोज तिवारी ने राष्ट्रीय राजधानी में भी NRC लागू किए जाने की मांग की है. मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली में भी राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर तैयार करने की जरूरत है क्योंकि स्थिति खतरनाक होती जा रही है. अवैध अप्रवासी जो यहां बस गए हैं, वे सबसे खतरनाक हैं, हम यहां भी NRC को लागू करेंगे.

Also Read: NRC को लेकर असदउद्दीन ओवैसी ने बीजेपी को बनाया निशाना, पूछा यह बड़ा सवाल, देखिये


19 लाख लोग सूचि से बाहर

मनोज तिवारी ने यह मांग ऐसे समय की है जब असम में NRC की फाइनल लिस्ट जारी की गई है. असम की राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) की अंतिम सूची शनिवार को जारी कर दी गई, जिसमें से लगभग 19 लाख लोगों के निकाल दिया गया. अंतिम सूची से 19,06,677 लोग निकाले गए हैं. सूची में 3,11,21,004 लोगों को भारतीय नागरिक बताया गया है.

वहीं NRC के आंकड़े जारी होने के बाद कांग्रेस ने अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास 10 जनपथ पर बैठक चल रही है. कांग्रेस इस मुद्दे पर सरकार को घेरने की पूरी कोशिश करेगी. लिहाजा बैठक में इसी को लेकर रणनीति भी बनाई जा सकती है. इस बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद और गौरव गोगोई भी शामिल हैं.

Also Read : मौलाना अरशद मदनी ने संघ प्रमुख मोहन भागवत से करी खास मुलाक़ात, जानिए क्या हुई बातचीत ?


लोगों को फॉरनर्स ट्रिब्यूलन में करनी पड़ेगी अपील

Manoj Tiwari demanded NRC in Delhi: बहरहाल, जिन 19 लाख लोगों को NRC लिस्ट में जगह नहीं मिली है, उनके लिए अब भी मौका है. इन लोगों को फॉरनर्स ट्रिब्यूलन में 120 दिनों में अपील करनी पड़ेगी. असम सरकार राज्य में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) की अंतिम सूची से निकाले गए लोगों से संबंधित मामले देखने के लिए 400 फॉरनर्स ट्रिब्यूनल्स स्थापित करेगी.

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

Facebook Comments