मोहन भागवत से क्यों मिले मौलाना अरशद मदनी ? बताई बड़ी वजह, रखा ये प्रस्ताव, देखिए

नई दिल्ली: जमीयत उलेमा ऐ हिन्द के अध्यक्ष मौलाना अरशद मदनी ने दिल्ली स्थित झंडेवालान में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यालय पर संघ प्रमुख मोहन भागवत से मुलाक़ात करी,दोनों के बीच कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई,देशभर में मुसलमानों के प्रति फैल रही नफरत के बीच इस मुलाकात को बड़ा अहम माना जारहा है।


Also Read : मुस्लिम देशों के संगठन OIC ने कश्मीर पर लिया बड़ा फैसला,विवाद को दी अंतर्राष्ट्रीय मान्यता, देखिये

इससे पहले संघ के वरिष्ठ नेता इंद्रेश कुमार ने भी दारुल उलूम देवबंद में मोहतमिम से मुलाकात करी थी,मौलाना अरशद मदनी ने शनिवार को देवबंद में अपने आवास पर पत्रकारों को इस मुलाकात की जानकारी दी और बताया कि यह मुलाकात देश में खड़ी हुई नफरत की दीवार को गिराने का काम करेगी, साथ ही सांप्रदायिक सौहार्द के नए आयाम भी स्थापित करेगी।

mohan bhagwat meets maulana arshad madani

मौलाना अरशद मदनी ने बताया कि वर्तमान परिस्थितियों पर हमने उनके सामने इस नजरिए को पेश किया कि अगर इस वक्त मिलकर भाईचारगी और प्यार मोहब्बत के लिए काम नहीं करेंगे तो आने वाले दिन अल्पसंख्यक और बहुसंख्यकों के लिए भी बहुत हानिकारक साबित होंगे।

हमें लगता है कि कहीं मुल्क तबाह न हो जाए, इसलिए हमें मिलकर काम करना चाहिए और इसके लिए आप हमारे साथ मिलें और आगे बढ़ें। इसके लिए हमने पहल कर दी है। उनके सामने यह प्रस्ताव रखा गया कि जो आरएसएस और हमारे मदरसों के लोग हैं और विश्वविद्यालयों के लोग हैं, उन सबको जमा होना चाहिए।


मदनी ने बताया कि भागवत ने उनकी बातों को गंभीरता से लिया है, बल्कि जब हम घर पहुंचे तो हमारे सामने उनका वो वीडियो भी आ गया, जिसमें उन्होंने अपने तमाम काम करने वालों को यह पैगाम दिया कि उनको प्यार मोहब्बत और हिंदू मुस्लिम एकजुटता पर काम करना चाहिए।

मौलाना मदनी ने कहा कि हमारी इस तरह की कोशिश बराबर जारी रहेगी और हमें उम्मीद है कि आने वाले दिनों में हम आज के मुकाबले में ज्यादा मिल जुलकर मुल्क और कौम के मफाद के लिए काम करेंगे।

Also Read : होटल में चल रहा था सेक्स रैकेट, पुलिस ने डाली रेड लड़की बोली- अंकल जाने दो शादी होने वाली है, देखिये

मौलाना मदनी ने बताया कि इस पहल के अंदर आरएसएस की बुनियादी शख्सियत मोहन भागवत का आगे बढ़ना और यह वादा करना कि हम सब मिल जुलकर काम करेंगे। मुल्क को बचाने के लिए उन्होंने हमारे प्रस्ताव का दिल खोलकर स्वागत किया।

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

Facebook Comments