Zomato के मुस्लिम डिलीवरी ब्वॉय का ऑर्डर कैंसिल करने वाले के खिलाफ पुलिस ने लिया एक्शन,देखिए

नई दिल्ली: ऑनलाईन फूड सर्विसेज की मशहूर कम्पनी जोमैटो इन दिनों काफी चर्चाओं में हैं,क्योंकि इसने धार्मिक भेदभाव के खिलाफ अपना कड़ा रवैया ज़ाहिर किया था,और धार्मिक कट्टरता के विरोध जमकर मुक़ाबला किया है।

जोमैटो पर खाना ऑर्डर करने के बाद गैर हिंदू डिलीवरी होने की वजह से अमित शुक्ला नामक एक युवक ने खाना कैंसिल कर दिया था। इसके बाद ट्विटर पर ट्वीट भी किया, जिसके बाद काफी विवाद हुआ।

Also Read : मुरादाबाद में सड़क पर पत्नी को दिया 3 तलाक, साले को डंडे से पीटा, देखिये पूरा वीडियो


अपने ट्विटर पोस्ट में अमित शुक्ला ने जोमैटो को टैग करते हुए लिखा था कि उन्होंने मुझे गैर हिंदू राइडर भेजना तय किया। उन्होंने कहा कि वे राइडर को बदल नहीं सकते हैं और न ही रिफंड कर सकते हैं। अमित शुक्ला ने आगे लिखा कि अगर मैं नहीं चाहता हूं तो आप मुझे खाना लेने के लिए जबरदस्ती नहीं कर सकते हैं।

फूड डिलीवरी करने वाली ऑनलाइन कंपनी जोमेटो ने ट्विटर पर एक ग्राहक को मुंहतोड़ जवाब दिया है। इसके बाद ग्राहक जोमेटो की प्रशंसा कर रहे हैं। दरअसल, अमित शुक्ला नामक एक ग्राहक ने ट्विटर पर जोमेटो को टैग करते हुए लिखा कि उसने जोमेटो से इसलिए खाना कैंसिल कर

इसके बाद जोमैटो ने इस ट्वीट का रिप्लाई करते हुए जवाब दिया कि भोजन का कोई धर्म नहीं होता है। भोजन अपने आप में ही एक धर्म है। इसके बाद इस ट्वीट पर जोमैटो के फाउंडर ने भी जवाब दिया था। दीपेंद्र गोयल ने लिखा था कि हमें आइडिया ऑफ़ इंडिया और हमारे ग्राहकों एवं साझेदारों की विविधता पर गर्व है। जबलपुर पुलिस अधीक्षक अमित सिंह ने कहा कि हम युवक को नोटिस भेजने की तैयारी कर रहे हैं। अगर यह सही है तो फिर यह धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाली बात है। यह अपराध है।


पुलिस के मुताबिक, किसी ने शिकायत दर्ज नहीं की है, लेकिन पुलिस ने ट्विटर पोस्ट के बारे में खुद नोटिस लिया है और नोटिस भेजने का फैसला किया है। अपने ट्विटर पोस्ट पर आलोचना के बाद, अमित शुक्ला ने अपने ट्वीट को सही ठहराया और कहा, ‘यह मेरे व्यक्तिगत धर्म का सवाल है।

Also Read : शामली में विदेशियों की गिरफ्तारी: आखिर मदरसे के छात्रों ने थाईलैंड में कैसे बना लिया आलीशान मकान?

उन्हें इसका सम्मान करना चाहिए। यह हमारे लिए श्रावण का पवित्र महीना है। मैंने शाकाहारी रेस्तरां से खाना मंगवाया। मैंने सिर्फ डिलीवरी बॉय को बदलने के लिए जोमैटो से अनुरोध किया था, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। मुझे नहीं लगता, मैंने कोई अपराध किया है।’

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

Facebook Comments