कश्मीर मुद्दे पर Amit Shah ने बुलाई बैठक, Ajit Doval और अन्य अधिकारी हुऐ मौजूद

Article 370: कश्मीर के मौजूदा हालात को लेकर आज गृहमंत्री अमित शाह ने नई दिल्ली में उच्चस्तरीय बैठक की. इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (ASA) अजीत डोभाल, आईबी प्रमुख अरविंद कुमार और केंद्रीय गृह सचिव राजीव गौबा समेत कई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे.

Also Read: Article 370 को हटाने पर प्रियंका गांधी का बड़ा बयान, लगाया केंद्र सरकार पर ये आरोप


सूत्रों के मुताबिक, बैठक में जम्मू कश्मीर के वर्तमान हालात पर चर्चा हुई. Article 370 हटाए जाने और जम्मू-कश्मीर को दो भागों में बांटकर दोनों (जम्मू-कश्मीर और लद्दाख) को केंद्र शासित प्रदेश बनाये जाने के फैसलों के बाद डोभाल कई दिनों तक घाटी में रुके और उन्होंने हालात पर नजर बनाए रखी.

कश्मीर में खुले स्कूल

कश्मीर में आज प्रतिबंधों में छूट दी गई और कुछ स्कूल खुले. लेकिन स्कूलों में ज्यादा छात्र नहीं दिखे. अधिकारियों ने बताया कि सरकार ने श्रीनगर में 190 प्राथमिक स्कूलों को खोलने के लिए सभी आवश्यक प्रबंध किए हैं जबकि घाटी के अधिकतर हिस्सों में सुरक्षा बल अब भी तैनात हैं.


सभी निजी स्कूल आज सोमवार को लगातार 15वें दिन भी बंद रहे क्योंकि पिछले दो दिन से यहां हुए हिंसक प्रदर्शनों के मद्देनजर अभिभावक सुरक्षा स्थिति को लेकर आशंकित हैं. केवल बेमिना स्थित ‘पुलिस पब्लिक स्कूल’ और कुछेक केन्द्रीय विद्यालयों में ही थोड़े बहुत छात्र पहुंचे.

पांच शहरों में स्कूल बंद

एक अभिभावक फारूक अहमद डार ने कहा, ‘‘ स्थिति इतनी ज्यादा अनिश्चित है कि अभी बच्चों को स्कूल भेजने का सवाल ही नहीं उठता.’’ बारामुला जिले के अधिकारियों ने बताया कि पांच शहरों में स्कूल बंद रहे. बाकी जिले में स्कूल खुले हैं. अधिकारी ने कहा, ‘‘ पट्टन, पल्हालन, सिंहपूरा, बारामुला और सोपोर में प्रतिबंधों में कोई ढील नहीं दी गई है. जिले में बाकी जगह प्राथमिक स्कूल खुले थे. कितने छात्र स्कूल पहुंचे इस संबंध में हम जानकारी हासिल कर रहे हैं’’.


श्रीनगर जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उपनगर में कुछ स्कूल खुले रहे लेकिन पिछले दो दिन में हुई हिंसा के कारण पुराने शहर और सिविल लाइन्स इलाकों में स्कूल बंद रहे. अधिकारियों ने सोमवार से प्राथमिक स्तर तक के स्कूल खोलने और सभी सरकारी कार्यालयों में काम शुरू करने की योजना बनाई थी.

Also Read: PAK को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष देश पोलैंड से भी झटका, PAK की टुटी सारी उम्मीदें।

पुलिस ने हटाए बैरिकेड

केन्द्र सरकार के पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को हटाने के बाद से श्रीनगर के जिन इलाकों में शांति कायम रही वहां से पुलिस ने बैरिकेड हटा दिए हैं. घाटी में बाजार बंद रहे और सार्वजनिक परिवहन भी सड़कों से गायब रहे. प्रतिबंधों में ढील के बाद से शहर में निजी वाहनों की आवाजाही बढ़ी है.

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

Facebook Comments