भारतीय हज यात्रियों को सऊदी अरब ने दिया शानदार तोहफा, देगा ये बड़ी सुविधा, देखिए

नई दिल्ली: दुनियाभर से मुसलमान हज के मुक़द्दस सफर के लिए सऊदी अरब पहुँच रहे हैं, जहां उनका सरकार की तरफ से भव्य स्वागत किया जारहा है, एयरपोर्ट्स पर फूल मालाओं और तोहफे देकर हाजियों का स्वागत किया जा रहा है।

Also Read : मक्का के गवर्नर की तरफ से एयरपोर्ट पर हाजियों को तोहफे में दिया जा रहा फ्री मोबाईल सिम, देखिए

सऊदी अरब सरकार ने भारतीय हाजियों को बड़ा तोहफे देने का ऐलान किया है, इससे पहले दुनिया के 4 देशों को ये सुविधा दी जाती थी, ‘मक्का रोड इनिशिएटिव’ को भारत में भी लागू करने के लिए भारत और सऊदी अरब बातचीत कर रहे हैं. सऊदी अरब के राजदूत सऊद बिन मोहम्मद ने से कहा कि अगले साल से यह सुविधा भारत में भी उपलब्ध कराने की तैयारी जोरों पर है. यह सुविधा मलेशिया, इंडोनेशिया, बांग्लादेश और पाकिस्तान में पहले से उपलब्ध है।


मक्का रोड इनिशिएटिव से हज यात्रा और सुगम हो जाएगी. हज यात्रियों को इस सर्विस से सऊदी अरब पहुंचने के बाद इमीग्रेशन के लिए दोबारा लाइन में नहीं लगना पड़ेगा. इस सर्विस के चलते उनका इमीग्रेशन क्लीयरेंस भारत में ही हो जाएगा।

सऊदी के इमीग्रेशन अधिकारी भारतीय एयरपोर्ट पर ही मौजूद रहेंगे और भारत से इमीग्रेशन क्लियर होने के बाद यात्रियों का सऊदी अरब का इमीग्रेशन वो अधिकारी एयरपोर्ट पर ही कर देंगे. इससे यात्रियों के कई घंटों का इंतजार कुछ मिनटों का हो जाएगा. यात्री सऊदी अरब पहुंचने पर सीधे मक्का और मदीना में अपने होटलों का रुख कर सकेंगे।

makkah governor distributes free sim cards

यही नहीं, इस सर्विस के चलते यात्रियों को कस्टम्स क्लीयरेंस, स्वास्थ्य से जुड़ी सुविधाएं और सामान की छंटनी भी भारत में ही की जा सकेगी, ताकि सऊदी अरब के एयरपोर्ट पर इंतज़ार न करना पड़े. सऊदी अरब के राजदूत सऊद बिन मोहम्मद ने कहा कि भारत से बड़ी संख्या में हज यात्री आते हैं, ऐसे में इस सुविधा को पूरी तरह लागू करने में थोड़ा वक्त लगेगा, लेकिन अगले साल से बड़े शहरों में इसे लागू करने का लक्ष्य है. इसके बाद हज यात्रा से जुड़े सभी 11 एयरपोर्ट्स पर भी यह सुविधा उपलब्ध कराने की योजना है।


Also Read : सपा सांसद आजम खान भू-माफिया घोषित, जमीन हड़पने के 23 मामले दर्ज, देखिये

सऊदी अरब के राजदूत सऊद बिन मोहम्मद ने कहा कि फिलहाल भारत के लिए 2 लाख यात्रियों का कोटा है, जिसे 2030 तक करीब 5 लाख कर दिया जाएगा. सऊदी अरब यात्रा को सुगम बनाने के लिए कदम उठा रहा है और तकनीक का भी खूब इस्तेमाल कर रहा है ताकि यह यात्रा और सुगम हो सके।

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

Facebook Comments