EVM में डाले 9 वोट, बीजेपी को मिले 17 ,कांग्रेस को 9, आप को आठ और निर्दलीय को एक

गोवा लोकसभा सीट पर सवेरे सवेरे मोक पोल में प्रसाइडिंग ऑफिसर ने सभी दलों के एजेंट के समाने मशीन को चेक करने को कहा और एक मोक पोल चेकिंग करने के लिए कहा ताकि बाद में किसी को संदेह न हो.

Also read : मोदी का प्रधानमंत्री बनना हो सकता है मुश्किल, इन 169 सीटों में जीतनी होंगी 100 सीटें


इस पर जब पोलिंग अधिकारी ने मोक पोल में वोट डालने को कहा गया. मशीन में कुल नौ वोट डाले गये. लेकिन मशीन में 35 मत निकले. इतने अंतर से निकले मत देखकर वहां मौजूद लोंगों के होश उड़ गये आनन फानन में इसकी शिकायत की गई तब तक साथ के बूथ में भी यही हाल था. इन पेंतीस वोटों में से बीजेपी अकेली 17 वोट ले चुकी थी जबकि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी को नौ और आठ मत मिले थे जबकि एक मत निर्दलीय के खाते में गया.

Also read : राहुल गाँधी ने खोला राज़ ? कांग्रेस की क्या है यूपी में रणनीति ?

इतनी भारी तादात में गडबड देखकर आम आदमी पार्टी के गोवा कंवीनर ने यह बात ट्विट करके चुनाव आयोग और चुनाव आयोग के प्रवक्ता को लिखा. उसके बाद गोवा प्रदेश के चुनाव आयुक्त ने इसकी जानकारी ली तब जाकर मशीन बदली गई है. तो वोट डालने से पहले एक बार मोक पोल ढंग से जरुर चैक करें. तभी मशीन को सील कर आगे कार्यवाही करें. Also Read – VVPAT ईवीएम में वोट डालते समय निकला सांप, मची मतदान केंद्र में अफरा तफरी


इस पार चुनाव आयोग के अधिकारी ने बताया कि ईवीएम के संपूर्ण सेट को डीईओ दक्षिण गोवा की रिपोर्ट के अनुसार एसी 34, पीएस नंबर 31 के बदल दिया गये है. अब मतदान चालु है.


इस खबर के बाद दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि जब वोट डाले 9 जब गिनती हुई तो मिले 17 कैसे मिले. रंगे हाथों पकड़े गए तो चुनाव आयोग मशीन बदल रहा है. लेकिन क्या अब भी चुनाव आयोग कह सकता है कि ईवीएम में गड़बड़ी नहीं हो सकती?


क्या ईवीएम चालीसा पढ़ने वाला मीडिया चुनाव आयोग और बीजेपी की इस मिलीभगत पर कुछ बोलने की हिम्मत जुटाएगा?

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे, निष्पक्ष पत्रकारिता का समर्थन करें |

Facebook Comments