चेहरा कुचला, हाथ को किया क्षत-विक्षत, उभरती मॉडल ख़ुशी परिहार का बॉयफ्रेंड अशरफ़ शेख़ गिरफ़्तार

महाराष्ट्र में नागपुर और पांडुरना के बीच राष्ट्रीय राजमार्ग 47 पर शहर से लगभग 50 किमी दूर चतरपुर में एक उभरती मॉडल का शव पाया गया। मृतका की पहचान 20 वर्षीया ख़ुशी परिहार के रूप में हुई है। ख़ुशी ने शहर में कई फैशन शो में भाग लिया था।

Also Read : आधार से संपत्ति को जोड़ने का मामला : दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्र और दिल्ली सरकार को भेजा नोटिस


जानकारी मिली है की उसके सिर और चेहरे को बुरी तरह से कुचला गया था। केलवद पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जाँच शुरू कर दिया है। शुरुआती जाँच में ख़ुशी के बॉयफ्रेंड अशरफ़ शेख़ का नाम सामने आया, जो गिट्टीखदान के कथित ड्रग्स का धंधा करने वाले का बेटा है।

पुलिस के अनुसार हत्या के बाद सबूत को नष्ट करने का भरपूर प्रयास किया गया लेकिन अशरफ़ गिरफ़्तारी से बच नहीं पाया।

कैसे पकड़ाया हत्यारा

घटनास्थल पर मृतका के पहनावे को देखकर पुलिस ने अंदाज़ा लगाया कि उसका संबंध शहरी क्षेत्र से है और फ़िर बिना देर किए पुलिस ने आसपास के थानों में गुमशुदगी की जाँच शुरू कर दी। मृतका के शरीर पर तीन टैटू थे। पहला टैटू- ‘ख़ुशी’ नाम से उसकी पीठ पर था, दूसरा टैटू- उसके सीने पर मुकुट के साथ ‘क्वीन’ था। तीसरा टैटू- उसके एक हाथ में – ‘आशु’ नाम से देखा गया।


मृतका की पहचान करने में इन तीनों टैटुओं ने एक बहुत बड़े सुराग की तरह पुलिस की काफ़ी मदद की। एक मुखबिर ने पुलिस को बताया कि यह शव शायद एक उभरती मॉडल खुशी परिहार का है। इसके बाद पुलिस ने उसके सोशल मीडिया अकाउंट्स को भी सर्च किया और टैटू से उसकी पहचान का पता लगाया।

जब पुलिस ने ख़ुशी की तस्वीरों में अशरफ़ को देखा तो उसकी तलाश शुरू कर दी। फिर अशरफ़ को जल्द ही केलवद पुलिस ने ढूँढ़ निकाला।

मोबाइल लोकेशन से केस सुलझ गया

अशरफ़ से पूछताछ के दौरान पुलिस को यह अंदाज़ा हो गया था कि वो उन्हें गुमराह करने की कोशिश कर रहा है। ख़ुशी, शुक्रवार (12 जुलाई) की रात 9 बजे उससे मिली थी। जब पुलिस ने उसके मोबाइल की लोकेशन चेक की, तो पता चला कि वो दोनों शुक्रवार को देर रात तक एकसाथ ही थे।

पुलिस की कुछ सख्ती दिखाने के बाद अशरफ़ ने क़बूल किया कि वो और ख़ुशी कलामना के एक ढाबे में गए थे जहाँ उन दोनों ने शराब पी थी और खाना खाया था। वहाँ से वे पांढुर्ना की ओर चले गए जहाँ ख़ुशी की अन्य लोगों से दोस्ती को लेकर उनमें आपस में झगड़ा हो गया। इसी झगड़े के बाद उसने खुशी की हत्या कर दी।


Also Read : इलाहाबाद हाईकोर्ट के बाहर बंदूक की नोक पर युवक-युवती का अपहरण, जांच में जुटी पुलिस

अशरफ़ ने पुलिस को यह भी बताया कि आने वाले 10 दिनों में उन दोनों की शादी होने वाली थी। अशरफ़ ने कुछ ही दिन पहले किराए पर गिट्टीखदान में एक फ्लैट भी लिया था, जहाँ ख़ुशी रहती थी। उसने उसे एक मोबाइल और एक कार भी दी थी। इस मामले में पुलिस अन्य एंगल से भी जाँच कर रही है।

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

Facebook Comments