3 महीने में गई 2 लाख लोगों की नौकरी, 271 शहरों में बंद हुए 286 शोरूम, जानिए क्यों

  • फाडा के अध्यक्ष आशीष हर्षराज काले ने कहा कि अभी तक दो लाख लोगों को बाहर किया गया है. वहीं, 271 शहरों में अब तक 286 शोरूम बंद हुए हैं.

कार-बाइक की बिक्री में आई भारी गिरावट के चलते देशभर में डीलर्स बड़ी संख्या में कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा रहे हैं. उद्योग संगठन फेडरेशन ऑफ आटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (फाडा) ने दावा किया है कि पिछले तीन माह के दौरान खुदरा विक्रेताओं ने बिक्री में भारी गिरावट की वजह से करीब दो लाख कर्मचारियों की छंटनी की है.

Also Read : बेरोजगारी की ऐसी मार, MA के संग बीएड व डिप्लोमा होल्डर तक चपरासी बनने को तैयार


फाडा ने कहा कि निकट भविष्य में स्थिति में सुधार की संभावना नहीं दिख रही है जिसकी वजह से और शोरूम बंद हो सकते हैं तथा छंटनी का सिलसिला जारी रह सकता है. आपको बता दें कि कार-बाइक मैन्युफैक्चर्स के संगठन सियाम के आंकड़ों के अनुसार मौजूदा वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में सभी सेगमेंट में वाहनों की बिक्री 12.35 फीसदी घटकर 60,85,406 यूनिट रह गई.

क्यों हो रही है छंटनी

फाडा के अध्यक्ष आशीष हर्षराज काले का कहना है कि बिक्री में गिरावट की वजह से डीलर्स के पास खर्चों में कटौती करने के लिए छंटनी ही एक मात्र विकल्प बचा है. काले ने कहा कि सरकार को वाहन उद्योग को राहत देने के लिए माल एवं सेवा कर (जीएसटी) में कटौती जैसे उपाय करने चाहिए.


2 लाख की हुई छंटनी

उन्होंने कहा, अभी ज्यादातर छंटनियां फ्रंट एंड सेल्स में हो रही है, लेकिन सुस्ती का यह रुख यदि जारी रहता है तो तकनीकी नौकरियां भी प्रभावित हो सकती हैं. यह पूछे जाने पर कि देशभर में डीलरशिप में कितनी नौकरियों की कटौती हुई है, काले ने कहा कि अभी तक दो लाख लोगों को बाहर किया गया है.

Also Read : योगी सरकार ने दरोगा भर्ती को किया और आसान, अब करना होगा बस ये काम

>> देशभर में 15,000 डीलरों द्वारा परिचालित 26,000 वाहन शोरूमों में करीब 25 लाख लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार मिला हुआ है. इसी तरह 25 लाख लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से इस क्षेत्र में रोजगार मिला है.


>> उन्होंने बताया कि पिछले तीन माह के दौरान डीलरशिप से दो लाख श्रमबल को कम किया गया है. इससे पहले इस साल अप्रैल तक 18 माह की अवधि में देश में 271 शहरों में 286 शोरूम बंद हुए हैं, जिसमें 32,000 लोगों की नौकरी गई थी. दो लाख नौकरियों की यह कटौती इसके अतिरिक्त है.

Ace News से जुड़े और लगातार अपडेटेड रहने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, Twitter पर फॉलो करे

Facebook Comments