TikTok यूजर्स के लिए खुशखबरी, कोर्ट ने हटाया बैन

शॉर्ट वीडियो ऐप TikTok पर लगे बैन को मद्रास हाईकोर्ट ने खत्म कर दिया है।

शॉर्ट वीडियो ऐप TikTok पर लगे बैन को मद्रास हाईकोर्ट ने खत्म कर दिया है। बता दें कि इससे पहले पोर्नोग्राफी और अश्लील कंटेंट के आरोप में मद्रास हाईकोर्ट ने तीन अप्रैल को TikTok पर बैन लगाने का निर्देश दिया था। जिसके बाद ऐप स्टोर और प्ले स्टोर से TikTok एप को हटा दिया गया था।

TikTok के वकील का क्या है कहना:

TikTok पर बैन हटने पर उनके वकील की तरफ से बताया गया कि कंपनी ने आपत्तिजनक कंटेंट को हटाने के लिए एक नई टेक्नॉलजी को अपनाया है। वहीं TikTok की ओर से कोर्ट को विश्वास दिलाया गया है कि TikTok ऐप पर अश्लील कंटेंट को बैन किया जाएगा।

सुप्रीम कोर्ट ने मद्रास हाईकोर्ट को फैसला लेने के लिए कहा था:

बता दें कि 22 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट ने मद्रास हाईकोर्ट से कहा था कि 24 अप्रैल तक कोई फैसला ले ले और यदि मद्रास हाई कोर्ट की तरफ से कोई फैसला नहीं आता है तो TikTok का बैन स्वत: खत्म हो जाता।

5 लाख डॉलर का नुकसान:

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बाइटडांस ने 22 अप्रैल को एक बयान में कहा था कि TikTok पर बैन की वजह से कंपनी को हर दिन 5 लाख डॉलर यानी करीब 3.5 करोड रुपए का नुकसान हो रहा है। वहीं भारत में TikTok के 250 कर्मचारियों की नौकरी पर भी तलवार लटक रही है। इसके साथ ही बाइटडांस ने बताया कि इस साल के अंत तक कर्मचारियों की संख्या बढ़ाकर एक हजार करने पर विचार किया जा रहा है। बाइटडांस के मुताबिक TikTok के करीब 12 करोड़ उपयोगकर्ता हैं।

नहीं हो रहा था ऐप डाउनलोड:

बता दें कि कोर्ट के बैन के बाद TikTok ऐप को कोई भी डाउनलोड नहीं कर पा रहा था। ऐप स्टोर और प्ले स्टोर से इसे हटा दिया गया था। हालांकि जिन लोगों के पास पहले से ही TikTok ऐप था वो इसका इस्तेमाल कर सकते थे।

Facebook Comments